गोल्डन सीताफल(NMK1 Golden Sitafal) की उन्नत खेती | मुनाफे की फसल

गोल्डन सीताफल(NMK1 Golden Sitafal) की उन्नत खेती | मुनाफे की फसल


गोल्डन सीताफल(NMK1 Golden Sitafal) की उन्नत खेती | मुनाफे की फसल


गोल्डन सीताफल( custard apple) किसानों की परेशानी का समाधान कम पानी कम मेहनत और हल्की जमीन में भी अछि उपज देने वाली फसल जिससे किसान 2 से 3 साल बाद अछि आय प्राप्त कर सकता है 3 साल बाद प्रति पौधा 10 kg फल प्राप्त होता है जो हरवर्ष बढ़ता है इसका फल देसी सीताफल खत्म होने के बाद पकता है और साइज में बड़ा होता है जिससे इसकी रैट बहोत अछि मिलती है याह मार्केट में 100 से 150 रुपये किलो तक बिकता है एक एकड़ में 400 से 850 पौधे लगते है जिनकी दूरी 5*10 से 8 * 12 तक रख सकते है ओर बीच की जगह में दूसरी खेती भी कर सकते है दो साल तक इसको गर्मी में पानी की जरूरत होती है उसके बाद गर्मी मे पानी की जरूरत नही होती है

5*10 = 871 (पौधे/एकड़) 8*12 = 453 (पौधे/एकड़)

NMK गोल्डन सीताफल 3 वर्ष बाद फल देना शुरू कर देता है यह अपने पहले वर्ष में 10 किलो तक फल देता है और समय के साथ इसकी फल देने की क्षमता बढ़ती जाती है हम एक अनुमान लगाएं इसका फल बाजार में 100 से 150 रुपए किलो तक बिकता है अगर एक पौधा हमें 10 किलो फल देता है और वह ₹100 में हम बेचते हैं ₹1000 एक पौधे से हमें कमाई होती है उसी तरह अगर हम 500 पौधे लगाते हैं अपने खेत में तो उनसे हमें ₹500000 तक की आमदनी होगी जो कि किसानों की आमदनी को बढ़ाने में बहुत कारगर है और कम पानी और हल्की जमीन मैं भी इसके अच्छी पैदावार हो जाती है जिससे किसानों को बहुत ही लाभ होगा और 3 साल तक इसके बीच में हम इंटर क्रॉपिंग मॉडल को यूज करते हुए अन्य फसलें भी ले सकते हैं

Golden custard apple is the solution to the problems of the farmers, less water, less labor and a good yielding crop even in light land, due to which the farmer can get good income after 2 to 3 years, after 3 years 10 kg fruit is obtained per plant which is It grows every year, its fruit ripens after the end of the native cilantro and is large in size, due to which its rat is very good. sells 100 to 150 rupees a kg in the market, 400 to 850 plants are planted in one acre, whose distance can be kept from 5 * 10 to 8 * 12 and can also do other farming in the middle space, it can be kept in summer for two years. Water is needed after that water is not needed in summer

NMK Golden Sitaphal starts giving fruits after 3 years, it gives up to 10 kg of fruit in its first year and with time its ability to bear fruit increases, let us make an estimate, its fruit is sold in the market for Rs 100 to 150 kg. is If a plant gives us 10 kg of fruit and we sell it for ₹ 100, we earn ₹ 1000 from a plant, in the same way if we plant 500 saplings in our field, then we will earn up to ₹ 500000 from them, which is the income of the farmers. It is very effective in increasing the income and it gives good yield even in less water and light land, which will benefit the farmers a lot and for 3 years in between we can also take other crops using intercropping model

स्त्रोत:- जितेंद्र पाटीदार (जानकारी, पौधे और बीज)
संपर्क करे:- 9770269992






समस्या और सुझाव कमेंट कर बताएं,
इसे अपने किसान भाइयों के साथ भी शेयर करे,